सन्मति प्रतियोगिता अंक १६ 

 

प्रथम पुरस्कार (०३)  -    रजत अभिषेक कलश        द्वितीय पुरस्कार (०३)   -   रजत जाप की माला

तृतीय  पुरस्कार (०३)  -  रजत सिक्का                    सांत्वना पुरस्कार  (३०३)   - ५१/- नगद 

 

सबमिट करने की अंतिम तारीख        ३० अप्रेल २०२१                  परिणाम की घोषना (रिझल्ट)          ३१ मई २०२१ 

 

जिन्हे ऑनलाइन पत्रिका सहभाग लेने में परेशानी हो रही हो वे

निम्न नंबर पर सम्पर्क करके प्रतियोगिता की पुस्तिका निशुल्क मंगवाए।

 

                                            - संयोजक -           विधानाचार्य पं. शैलेशभाई जैन 'शैलेन्द्र'  

मांगीतुंगीजी  9421443513-9595143513                   

 

संस्था परिचय  

      महाराष्ट्र के मराठवाड़ा प्रान्त में जो हमेशा अकाल और अन्य संसाधनों के अभाव  से दुर्गम बना हुवा था, जैन समाज अत्यल्प मात्रा में होने के साथ साथ धर्म से दूर होता हुवा जान पड़ता था साधुओ का अभाव इन अनेक कारण इसके लिए निमित्त बने हुवे थे |  ऐसी धरा पर लातूर जिले के कसार सिरसी ग्राम में सन १९८९ में बा. ब्र.  स्मिताताई शाह की अध्यक्षता में आदरणीय जीवनदादा पाटिल के कार्यक्षेत्र में श्री दिगंबर जैन सिद्धांत प्रसारक मंडल के नाम से संस्था का बीजारोपण हुवा |   अल्प समय में ही आस पास के छोटे छोटे गांव में बसे जैन समाज के धर्मावलम्बियों को एकत्रित कर उन्हें धर्म से जोड़ने का प्रयास शुरू हुवा ।  धर्मसंस्कार शिक्षण शिबिर के माध्यम से छोटे छोटे शिबिरों का आयोजन करके उन्हें जैन धर्म के सामान्य ज्ञान से प ...MORE

विजेता

बाल - सन्मती प्रतियोगिता अंक क्रमांक.13

कु प्रांजल कन्हैय्यालाल जैन

गुरु - सन्मती प्रतियोगिता अंक क्रमांक.13

कुमारी श्रद्धाली प्रमोदकुमार जैन

बडी - सन्मती प्रतियोगिता अंक क्रमांक.14

DIPIKA JAIN Anand jain Patni

और देखे

संरक्षक


०५ कु. भारती नरेंद्र वाळली
(औरंगाबाद )

०२ बाबूजी शांतिलालजी गोधा
(रतलाम )

०४. पं. लाभेशचंदजी पं. जीवंधरजी शास्त्री
(जबलपुर )

श्री. मनोज सोनालाल जैन
(सोनगिर )

०३. डॉ. प्रवीणभाई शाह
(नवसारी )

०१. गणपतराय बगड़ा
(मदुरई )

योजना में आर्थिक सहयोग करनेके लिए दान करे

पुरस्कार दाता


सौ ऋतिका मनोजकुमारजी गांधी
(बारामती )

सौ शोभादेवी सुरेश कुमारजी कासलीवाल
(नासिक)

सौ शैलाबाई धन्नालालजी दगडे
(नासिक )

श्री सतीष नन्दलाल जैन
(बुरहानपुर )

किरणदेवी ललितकुमारजी पाटनी
(सिलचर)

सौ राजुलबाई कल्याणमलजी चुड़ीवाल
(शिउर )